13 नवंबर की रात इस एस्टेरॉयड ने दुनिया भर के साइंटिस्ट्स को डरा दिया था

Medhaj News 20 Nov 20 , 12:04:40 Science & Technology Viewed : 536 Times
ulka.png

दिवाली से एक दिन पहले यानी 13 नवंबर की रात एक एस्टेरॉयड जरा सा भी चूकता तो वह धरती का नक्शा बदल देता | हालांकि उसने दुनिया भर के साइंटिस्ट्स को डरा दिया था क्योंकि यह एस्टेरॉयड धरती के वायुमंडल के ठीक ऊपर से होकर गुजरा | धरती से मात्र 386 किलोमीटर की दूरी से | इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ है जब कोई एस्टेरॉयड धरती के इतने करीब से गुजरा है | आइए जानते हैं इस एस्टेरॉयड के बारे में...इस एस्टेरॉयड का नाम है 2020VT4 इस एस्टेरॉयड का आकार लंदन में चलने वाली बस के जितना है | यह स्पेस रॉक एक तरफ पतला है दूसरी तरफ मोटा है | एक तरफ इसकी चौड़ाई 16 फीट है जबकि दूसरी तरफ 33 फीट है | वैज्ञानिकों ने बताया कि यह धरती के वायुमंडल के ठीक ऊपर से निकल गया | अगर यह वायुमंडल में आ जाता तो खतरा ज्यादा हो सकता था | 





हवाई स्थित मौना लोआ में लगाए गए एस्टेरॉयड टेरेस्ट्रियल इम्पैक्ट लास्ट अलर्ट सिस्टम ने इस एस्टेरॉयड को धरती के बगल से गुजरने के 15 घंटे बाद डिटेक्ट किया | जबकि, यह अलर्ट सिस्टम हमेशा एस्टेरॉयड के आने की पहले सूचना देता है | अगर यह धरती पर गिरता तो प्रशांत महासागर के दक्षिणी इलाके में कहीं गिरता | इससे भयानक सुनामी भी आ सकती थी | अब तक के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ कि एस्टेरॉयड धरती के इतने नजदीक से गुजरा हो | वह लगभग इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन की ऑर्बिट से होकर गुजर गया | एस्टेरॉयड 2020VT4 को पहले A10sHcN कहा जाता था | एस्ट्रोनॉमर टोनी डुन ने 14 नवंबर को ट्वीट करते हुए कहा था कि एस्टेरॉयड 2020VT4 धरती के बगल से गुजर गया है | यह प्रशांत महासागर के दक्षिणी इलाके के कुछ सौ किलोमीटर ऊपर से निकला है | यह बेहद रोमांचक और भयावह था | साइंटिस्ट के अनुसार एक एस्टेरॉयड को धरती पर बड़ी तबाही के लिए कम से कम 82 व्यास का होना चाहिए | इससे छोटा वायुमंडल में आकर नष्ट हो सकता है | 

धरती पर 66 मिलियन वर्ष पहले जिस एस्टेरॉयड ने डायनासोर की प्रजातियों को खत्म किया था वह 12.1 किलोमीटर चौड़ा था | जिसकी वजह से पूरी धरती पर तबाही आ गई थी | डायनासोर समेत कई प्राचीन जीवों की प्रजातियां खत्म हो गई थीं | साल 2013 में रूस के ऊपर से चेलियाबिन्स्क मेटियोर निकला था, जिसकी गति की वजह से हजारों इमारतों की खिड़कियां टूट गई थीं | साथ ही 112 लोग घायल हो गए थे | वह 13 नवंबर को धरती के बगल से गुजरे 2020VT4 एस्टेरॉयड से 30 गुना बड़ा था | 


    1
    0

    Comments

    • Ok

      Commented by :Aslam
      20-11-2020 19:29:50

    • Load More

    Leave a comment



    Similar Post You May Like

    Trends

    Special Story