अभेद हुई भारत की आसमानी सरहद की सुरक्षा

Medhaj News 6 Jan 21 , 12:41:15 Science & Technology Viewed : 729 Times
mrsam.png

DRDO और IAI द्वारा ईजाद मिसाइल अपने आप में अदभुद है | इस मिसाइल से पार पाना किसी के बस की बात नहीं | ये मिसाइल सतह से हवा में मार करती है | इस मिसाइल का भारत और इजरायल ने पिछले हफ्ते ही कामयाब परीक्षण किया था | रक्षा विशेषज्ञों ने बताया कि MRSAM दुश्मन के विमानों को खुद से 50 से 70 Km की दूरी पर तबाह कर सकता है | इस MRSAM का इस्तेमाल भारतीय सेना के तीनों विंग्स में किया जाएगा | भारत के साथ - साथ इजरायल के सुरक्षा बल भी इस MRSAM का इस्तेमाल करेंगे | इस MRSAM में हाईटेक रडार, मोबाइल लॉन्चर, इंटरसेप्टर, एडवांस आरएफ सीकर नई तकनीक से बना है |

इसमें डिफेंस सिस्टम की कमांड और नियंत्रण भी कमाल का है | इजरायल के सीईओ बोज लेवी ने बताया कि  MRSAM को आज की तकनीक को देखते हुए बनाया गया है | उन्होंने आगे कहा कि परीक्षण में मिली कामयाबी बहुत ही महत्वपूर्ण है | DRDO के साथ काम करना हमारे लिए गर्व की बात है | इसके साथ ही इजरायली रक्षा उद्योग की ओर से आई प्रतिक्रिया के मुताबिक कहा गया कि हमारे एक्सपर्ट्स और भारतीय वैज्ञानिकों के बीच हुआ परीक्षण सफल रहा | इस दौरान हमने उड़ान के संदर्भों का बारीक़ आकलन किया | जो हर मानकों में कामयाब रहा | इजरायल और भारत के सहियोग से बने इस ब्रह्मास्त्र का वर अचूक है | 


    8
    0

    Comments

    • Ok

      Commented by :Aslam
      06-01-2021 22:50:38

    • Ok

      Commented by :Rinku Ansari
      06-01-2021 18:05:49

    • Ok

      Commented by :Sushil Kumar Gautam
      06-01-2021 17:21:24

    • Ok

      Commented by :Saddam husain
      06-01-2021 16:58:23

    • Good

      Commented by :Raj Ratna Kishanganj
      06-01-2021 16:37:11

    • Good

      Commented by :Bal Gangadhar Tilak
      06-01-2021 15:25:25

    • This is need of our forces in the current scenario.

      Commented by :Rajeev Kumar
      06-01-2021 13:37:59

    • Load More

    Leave a comment



    Similar Post You May Like

    Trends

    Special Story