मनोरंजनयात्राहिमाचल प्रदेश

सिक्किम के ऐतिहासिक रैबडेंट्स खंडहर

सिक्किम के रैबडेंट्स खंडहर के बारे में जानकारी देने के लिए। रैबडेंट्स खंडहर सिक्किम के ऐतिहासिक महत्वपूर्ण स्थानों में से एक है, और इतिहास प्रेमियों के लिए ये एक महत्वपूर्ण आकर्षण का कंद्र है। यह स्थान सिक्किम के पुरातात्विक सर्वेक्षण द्वारा पुनर्स्थापित किया जाता है और उन्हें साइट को प्रबंधित करने और इसकी सुरक्षा के लिए अधिकार होता है।

रैबडेंट्स 1814 ईस्वी तक सिक्किम की राजधानी था, और इस स्थान पर सदियों तक शासन किया गया था। आज भी इस खंडहर में कई समय से पुरानी संरचनाएं, भवन, और अवशेष देखे जा सकते हैं, जो इतिहास प्रेमियों और खोजकर्ताओं के लिए रुचिकर होते हैं। अगर आप पेमायंग्त्से मठ की यात्रा कर रहे हैं, तो आपको अपने दौरे को सुरक्षित और सम्मानित ढंग से करना चाहिए। स्थानीय नियमों और प्रोटोकॉल का पालन करना महत्वपूर्ण है, खंडहर के अवशेष इतिहास के महत्वपूर्ण भाग है जो हमारे इतिहास की अमूल्य धरोहर है। इसलिए, अपनी यात्रा को आनंददायक बनाने के साथ-साथ, स्थानीय संस्कृति और इतिहास का सम्मान करने का प्रयास करें ताकि आने वाली पीढ़ियों को भी यह अद्भुत धरोहर देखने का अवसर मिल सके।

हवाई मार्ग द्वारा:-

सिक्किम की राजधानी गंगटोक का सबसे नजदीकी हवाई अड्डा बागडोगरा है, जहां से गंगटोक शहर की दूरी करीब 124-125 किमी. है।

रेल मार्ग द्वारा:-

गंगटोक में रेलवे स्टेशन नहीं है। गंगटोक जाने के लिए आपको गंगटोक का नजदीकी रेलवे स्टेशन नई जलपाईगुड़ी है। जो गंगटोक शहर से करीब 119-120 किमी. दूर है। नई जलपाईगुड़ी से प्राइवेट टैक्सी द्वारा गंगटोक पहुंचा जा सकता है।

सड़क मार्ग द्वारा:-

नई जलपाईगुड़ी से मात्र 6 किमी. की दूरी पर सिलीगुड़ी का बस स्टैंड मौजूद है। सिलीगुड़ी और बागडोगरा जैसी जगहों से कई निजी और राज्य बसें उपलब्ध हैं।

read more… मणिपुर की राजधानी इम्फाल एक आकर्षक पर्वतीय शहर

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button