पोषक तत्वों से भरपूर कुछ फूड जो माइग्रेन में मदद कर सकते हैं

Some-foods-rich-in-nutrients-that-can-help-in-migraine

आज के समय में हर एक व्यक्ति को तनावपूर्ण जीवन के कारण गंभीर सिरदर्द होता है जो माइग्रेन जैसी गंभीर चिकित्सा स्थितियों में बदल जाता है। यह स्थिति आज के समय में इतनी आम हो गई है कि इसने दुनिया भर के लाखों लोगों को प्रभावित कर कर दिया है। यह सिर्फ एक तनाव नहीं है, बल्कि कई अन्य कारक हैं जो किसी व्यक्ति में माइग्रेन का कारण बन सकते हैं। जब इसके इलाज की बात आती है तो दवा बहुत महत्वपूर्ण है, लेकिन हमें आहार और जीवन शैली का भी ध्यान रखना चाहिए।

यह दोनों इस स्थिति को कम करने में मदद करते हैं और लंबे समय के लिए माइग्रेन को ठीक करने में मदद कर सकते हैं। एवोकैडो, नट्स, बीज, पानी, हरी पत्तेदार सब्जियों के साथ कई जड़ी बूटियों और मसालों जैसे कुछ फूड हैं जो माइग्रेन के दर्द को कम करने में मदद कर सकते हैं। यदि आप भी यह स्थिति से पीड़ित हैं, तो यहाँ कुछ महत्वपूर्ण फूड बताए है जो आपकी मदद करेंगे।

हरी पत्तेदार सब्जियाँ: हरी पत्तेदार सब्जियों में अधिक मैग्नीशियम जैसे एंटीऑक्सिडेंट और पोषक तत्वों की एक अच्छी मात्रा होती है जो अच्छे मस्तिष्क स्वास्थ्य और तंत्रिका कार्य को बनाए रखने के लिए जरुरी है। माइग्रेन के लिए हरी पत्तेदार सब्जियाँ सबसे अच्छी आरामदायक चीजों में से एक हैं। पालक और सलाद जैसी सब्जियाँ मस्तिष्क और नसों को स्वस्थ रखने में मदद करती हैं।

बीज और नट्स: ड्राई फ्रूट्स जैसे बीज और नट्स में अधिक कैल्शियम, मैग्नीशियम, प्रोटीन जैसे एंटीऑक्सिडेंट पाए जाते है जो तनाव को कम करने और नसों को मजबूत बनाते हैं। यह अच्छा मस्तिष्क स्वास्थ्य भी बनाए रखने में मदद करते हैं। माइग्रेन के रोगीयो के लिए नियमित रूप से बीज और नट्स का सेवन करना बहुत ही जरुरी है।

डार्क चॉकलेट: इसमें अधिक मैग्नीशियम पाया जाता है, जो हार्मोनल संतुलन में मदद करता है और सूजन को कम करता है। यह माइग्रेन के दर्द को कम करने में मदद करता है। यदि आपके घर में कोई ऐसा व्यक्ति हैं जिसको बार-बार सिरदर्द होता है, तो उनके लिए डार्क चॉकलेट बहुत मदद कर सकती है।

पानी और जूस: निर्जलीकरण माइग्रेन के लिए एक कुछ सामान्य ट्रिगर है। वह लोग जो माइग्रेन से पीड़ित है उनके लिए पानी, अदरक की चाय, नींबू पानी या फलों और सब्जियों जैसे आंवला या एलोवेरा से बने जूस पीने से हाइड्रेटेड रहना महत्वपूर्ण है।

वसायुक्त (Fatty) मछली: सैल्मन, मैकेरल, सार्डिन जैसे भोजन ओमेगा -3 फैटी एसिड के अच्छे स्रोत हैं जो माइग्रेन की आवृत्ति और गंभीरता को कम करने में सहायक है। ओमेगा -3 फैटी एसिड में अधिक anti-inflammatory effects होते हैं जो माइग्रेन को कम करने में मदद करते हैं।

किसी भी चीज़ को फॉलो करने से पहले अपने डॉक्टर की सलाह जरूर ले। -BS

Exit mobile version