कविता - तन्हाई

Medhaj News 6 Jul 20 , 11:27:53 Special Story Viewed : 5697 Times
poem.png

तन्हाई तन्हाई और तन्हाई, एक गीत गा रही है

और ये बात, मैं किसी से कह भी नहीं सकता

जिसे नज़र ढूंढती, अंधेरों में खोई उसकी परछाई।

बहती नदी सी है वो, बहती ही जा रही है।

एक शोर उठ रहा है किनारों से,

भर दे कोई तन्हाई को सरोवर सा,

ये गुनगुना रही है।


तन्हाई तन्हाई और तन्हाई, एक गीत गा रही है।

दो किनारों सी है जुदाई,

नामुमकिन है दोनों का मिलना, लहरें बता रहीं हैं।

मेरी तन्हाई सी शान्त है लहर इसकी,

किनारों पर लगे पत्थरो से हाल बता रही है,

महसूस करे भी तो कैसे पत्थर ही तो है,

अपनी बेरुखी जता रही है।


तन्हाई तन्हाई और तन्हाई,

एक गीत गा रही है।

ना थके है, पाव कभी

ना तो हिम्मत अभी हारी है

मैंने देखे है कई दौर

अभी भी संघर्ष जारी,


तन्हाई तन्हाई और तन्हाई,

एक गीत गा रही है।



-----अखिलेश कुमार(बलिया)-----



 


    66
    0

    Comments

    • Bahut sunder abhivakti hai ji. Aabhar.

      Commented by :Chander Shekhar
      13-07-2020 05:20:09

    • Beautiful

      Commented by :NARAYANAN DUTTA
      09-07-2020 11:33:52

    • Nice poem

      Commented by :Randhir Kumar Gaurav Hajipur
      07-07-2020 07:48:08

    • Good Job

      Commented by :Vikash
      06-07-2020 23:59:58

    • Awesome

      Commented by :Kunal chandra
      06-07-2020 22:24:41

    • Nice line

      Commented by :Pravesh Kumar Satyarthi
      06-07-2020 20:26:56

    • Nice

      Commented by :Nidhi Azad
      06-07-2020 18:20:59

    • Nice line

      Commented by :BAL GANGADHAR TILAK
      06-07-2020 18:04:21

    • Nice line

      Commented by :AJEET Kumar
      06-07-2020 17:42:48

    • Good one

      Commented by :Arpit Pandey
      06-07-2020 17:25:38

    • Nice

      Commented by :Ajay Kumar Azad
      06-07-2020 17:01:00

    • Nice Line

      Commented by :uday Parte
      06-07-2020 16:48:13

    • Nice line

      Commented by :Amit Kumar
      06-07-2020 16:14:02

    • Nice Line

      Commented by :Raghunath Patra
      06-07-2020 16:04:33

    • Nice

      Commented by :BHUPENDRA MAHAYACH
      06-07-2020 12:26:59

    • nice line

      Commented by :Sushil Kumar Gautam
      06-07-2020 12:23:00

    • Nice lines

      Commented by :Akhilesh Mishra
      06-07-2020 11:56:37

    • NICE

      Commented by :Rohit gautam
      06-07-2020 11:42:05

    • Nice poem

      Commented by :Atul Kumar Singh
      06-07-2020 11:40:44

    • Load More

    Leave a comment



    Similar Post You May Like

    Trends

    Special Story