कविता -चरणों में जिसके स्वर्ग है

Medhaj News 5 Sep 20 , 13:46:39 Special Story Viewed : 1806 Times
mother_son_beach_photo_by_eduardo_merille_flickr.jpg

चरणों में जिसके स्वर्ग है ,

दामन में दुनिया समाई है ,

संकट दूर दूर न भटके ,

मांँ की दुआ रंग लाई है।



दुनिया से हो कितनी भी परेशानी ,

मांँ की गोदी ने हिम्मत बढ़ाई है ,

कोई भी हो इम्तेहान संसार का ,

मांँ की दुआ ही काम आई है।



दुनिया के झमेले हैं ऐसे,

कि रातों की नींद भी उड़ाई है ,

मांँ ने आकर थपकी जो दी ,

रात भर चैन की नींद आई है।



एक जन्म तो क्या कई जन्मों में भी ,

कर्ज़ मे तनिक भी कमी न आई है  ,

मुझे संसार में लाने के लिए ,

मांँ ने जो कठिनाई उठाई है।



विषम परिस्थितियों में भी मुस्कुराना ,

यह खूबसूरती मैंने मांँ से ही पाई है ,

मंदिर मंदिर ढूंढा ईश्वर,

मांँ में ही ईश्वर की मूरत समाई है।



---स्वरचित---

ललित खंडेलवाल


    16
    0

    Comments

    Leave a comment



    Similar Post You May Like

    Trends

    Special Story