जूते-चप्पल पहन भूलकर भी न जाएं इन जगहों पर, माना जाता है अशुभ 

kya khub dekhti ho

आमतौर पर, लोग जाने-अनजाने में ऐसी गलतियां कर बैठते हैं जो वास्तु दोष का कारण बनता है। माना जाता है के सुखी जीवन के लिए वास्तु का होने बहुत जरूरी है।  सही वास्तु का ध्यान ना देने पर बीमारियां ,पैसों की दिक्कत ,मित्रो से झगड़ा , व्यापार में नुक्सान और घर में कलह हो सकती है। इसनलए वास्तु में बताया गया है की हमे  जूते चप्पल कहाँ नहीं  पहनना चाहिये।  


1. मंदिर में जूते-चप्पल पहनकर प्रवेश करने से देवी-देवता नाराज हो जाते हैं। इसलिए मंदिर में कभी भी जूते पहन कर प्रवेश नहीं करना चाहिए। 

2. नदी पवित्र होती है उसके पास जूते चप्पल कभी नहीं पहनना चाहिए। नदी के पास जूते चप्पल पहनने  से घर की सुख शांति भांग होती है। 

3. रसोईघर में चप्पल पेहेन्ने से माँ अन्नपूर्णा नाराज़ होती हैं और मनुष्य को जीवन में कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है। 

4. भण्डार घर में जूता चप्पल पेहेन्ने से घर में अन्न की कमी होती है। 

5. तिजोरी के पास जाने से पहले जूते निकाल कर जाना चाहिए।  अगर तिजोरी के पास जूते चप्पल पहन कर जाते हैं तो माँ लक्ष्मी नाराज़ होती है जिसके कारण धन की हानि होती है।
 

Share this story