पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम जमानत पाने के बाद पहली बार मीडिया से रू-ब-रू हुए

Medhaj News 5 Dec 19 , 13:31:14 Sports Viewed : 682 Times
congress_leade.jpeg

पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम (P. Chidambaram) आईएनएक्स मीडिया केस (INX Media Case) में सुप्रीम कोर्ट से जमानत पाने के बाद गुरुवार को पहली बार मीडिया से रू-ब-रू हुए. कांग्रेस मुख्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए चिदंबरम ने अर्थव्यवस्था, प्याज की बढ़ती कीमतों और विपक्ष के नेताओं की गिरफ्तारी पर मोदी सरकार को जमकर घेरा | चिदंबरम ने कहा - प्रधानमंत्री अर्थव्यवस्था पर असामान्य रूप से मौन रहे हैं | उन्होंने इसे अपने मंत्रियों के लिए छोड़ दिया है कि वे जनता को झांसा दें | अगर बीमारी की पहचान नहीं होगी तो इलाज भी गलत होगा | सही इलाज के लिए मर्ज़ की जानकारी होना बेहद जरूरी है | कांग्रेस मुख्यालय में मीडिया से बात करते हुए चिदंबरम ने कहा - 106 दिन के बाद आपसे बात करने में खुशी हो रही है | मुझे जब घर से गिरफ्तार किया गया, तो सबसे पहले जम्मू-कश्मीर के लोगों की याद आई जिन्हें इस तरह रखा गया है |





पूर्व वित्त मंत्री ने कहा - अगर इस साल के आखिरी तक विकास दर 5 फीसदी पहुंचती है, तो हम भाग्यशाली होंगे | कृपया याद रखें कि डॉ. अरविंद सुब्रमण्यम ने कहा था कि संदिग्ध कार्यप्रणाली के कारण इस सरकार के तहत 5% विकास दर वास्तव में 5% नहीं, बल्कि लगभग 1.5% से कम है | मौजूदा आर्थिक सुस्ती को चिदंबरम ने कहा कि यह मानव निर्मित त्रासदी है | यह पूछे जाने पर कि क्या चिदंबरम सरकार को अर्थव्यवस्था पर सलाह देंगे, इसपर चिदंबरम ने कहा- 'पहले आप इसकी गारंटी दें कि क्या सरकार हमारी बात सुनेगी, अगर वह ऐसा करते हैं तो हम तैयार हैं | चिदंबरम ने कहा कि 8-9 महीने के भीतर ही आरबीआई ने विकास दर को 7.4 से घटा कर 5 फीसदी कर दिया | यह अद्वितीय है | पूर्व वित्त मंत्री चिदंबरम ने कश्मीर के मुद्दे पर भी सरकार को घेरा | उन्होंने कहा - जैसा कि मैंने कल रात 8 बजे आजादी की हवा निकाली और सांस ली, मेरा पहला विचार और प्रार्थना कश्मीर घाटी के 75 लाख लोगों के लिए थी, जिन्हें 4 अगस्त, 2019 से अपनी बुनियादी स्वतंत्रता से वंचित कर दिया गया है | उन्होंने कहा - मैं विशेष रूप से उन राजनीतिक नेताओं के बारे में चिंतित हूं, जो बिना किसी आरोप के हिरासत में लिए गए हैं | अगर हमें अपनी स्वतंत्रता को बचाना है, तो हमें उनकी स्वतंत्रता के लिए लड़ना चाहिए |


    0
    0

    Comments

    Leave a comment



    Similar Post You May Like

    Trends

    Special Story