advy_govt

नए कलेवर और नए माहौल में विराट एंड कंपनी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में रंग जमाने को तैयार

Medhaj news 27 Nov 20 , 08:01:02 Sports Viewed : 1913 Times
AUSTRALIA.jpg

आठ माह के लंबे ब्रेक के बाद नए कलेवर और नए माहौल में विराट एंड कंपनी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में रंग जमाने को तैयार है। नई जर्सी और कोरोना वायरस के बीच टीम इंडिया शुक्रवार को जब ऑस्ट्रेलियाई टीम के खिलाफ उतरेगी तो उसका लक्ष्य जीत के साथ नई शुरुआत करने का होगा। तीन वनडे मैचों की सीरीज के पहले मुकाबले के साथ दोनों टीमों के बीच क्रिकेट का रोमांच शुरू होगा। कोहली की टीम ने आखिरी मुकाबला मार्च की शुरुआत में न्यूजीलैंड के खिलाफ खेला था। कोरोना के कारण लंबे समय तक अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से दूर रही टीम का सामना अब ऑस्ट्रेलिया जैसे धुरंधर से है जिसे उसकी धरती पर हराना आसान नहीं होगा। भारत को अपने ‘हिटमैन’ रोहित शर्मा की कमी खलेगी। चोटिल रोहित की गैर मौजूदगी से बल्लेबाजी क्रम पर असर जरूर पड़ेगा। ऑस्ट्रेलिया में फोकस इस पर रहेगा कि रोहित की अनुपस्थिति में टीम संयोजन सही कैसे बन पाता है। शिखर धवन के साथ मयंक अग्रवाल पारी का आगाज करेंगे या शुभमन गिल। मिशेल स्टार्क या पैट कमिंस की गेंदों को झेलना आसान नहीं रहेगा। भारतीय बल्लेबाजों का सामना सर्वश्रेष्ठ तेज आक्रमण से होने जा रहा है। 

लोकेश राहुल के लिए भी यह दौरा अग्निपरीक्षा से कम नहीं होगा। उपकप्तान राहुल आईपीएल में शानदार फॉर्म में थे जिसे वह बरकरार रखना चाहेंगे। हालांकि असल चुनौती विकेट के पीछे धोनी की जगह लेने की है, जहां उन्हें युजवेंद्र चहल की गुगली को भांपना होगा। खुद राहुल मानते हैं कि धोनी की जगह लेना तो किसी के लिए संभव नहीं है। माही ने विकेटकीपिंग के इतने ऊंचे मानदंड कायम किए हैं कि उन पर खरे उतरना भी किसी के लिए आसान नहीं है। भारतीय एकादश में जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद शमी दोनों शामिल हो सकते हैं या टीम प्रबंधन टेस्ट सीरीज को ध्यान में रखकर एक मैच में एक को ही उतार सकता है। ऐसे में शार्दुल और सैनी को मौका दिया जा सकता है। हार्दिक छठे या सातवें नंबर पर आक्रामक बल्लेबाजी में माहिर हैं जिससे कोहली दो स्पिनर लेकर उतर सकते हैं। चौथे नंबर पर अय्यर ने पिछले दौरे पर अच्छा प्रदर्शन किया था। ऑस्ट्रेलियाई मध्यक्रम के लिए चहल चिंता का सबब होंगे। वहीं भुवनेश्वर जैसे डेथ ओवरों के विशेषज्ञ गेंदबाज की गैर मौजूदगी में बुमराह पर अतिरिक्त जिम्मेदारी रहेगी। वनडे के बाद तीन टी20 मैच खेले जाने हैं। टेस्ट सीरीज 17 दिसंबर से शुरू होगी । ऑस्ट्रेलिया के पास एडम जांपा के रूप में कुशल स्पिनर भी है जिसने कई बार कोहली को परेशान किया है। लय में लौटे स्टीव स्मिथ, रन मशीन डेविड वॉर्नर और उभरते सितारे मार्नस लाबुशाने की मौजूदगी में ऑस्ट्रेलिया को उसकी सरजमीं पर हराने के लिए भारतीयों को अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना होगा। 

भारत और ऑस्ट्रेलिया के क्रिकेटर मैच की शुरुआत से पहले डीन जोंस के सम्मान में एक मिनट का मौन रखेंगे और बांह पर काली पट्टी बांधकर खेलेंगे। जोंस का 24 सितंबर में मुंबई में आईपीएल के दौरान दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया था। वह आईपीएल के कमेंटरी पैनल में शामिल थे। उनके सम्मान में क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए) ने भारत के खिलाफ सीरीज के दौरान उन्हें दो बार श्रद्धांजलि देने का फैसला किया है। पहला सम्मान उन्हें शुक्रवार को एससीजी पर पहले वनडे के दौरान दिया जाएगा। जहां मैच शुरू हो से पहले एक मिनट का मौन रखा जाएगा और दोनों देशों की टीमें बांह पर काली पट्टी बांधकर खेलेंगी। बड़ी स्क्रीन पर उनके शानदार कॅरिअर के अहम पलों को भी दिखाया जाएगा। इसके बाद मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड पर दूसरे टेस्ट के पहले दिन भी जोंस को श्रद्धांजलि दी जाएगी।


    3
    0

    Comments

    • Ok

      Commented by :Aslam
      27-11-2020 21:38:31

    • Good

      Commented by :Vijay
      27-11-2020 18:50:22

    • Good

      Commented by :Saddam husain
      27-11-2020 18:05:26

    • Good

      Commented by :Sushil Kumar Gautam
      27-11-2020 11:18:42

    • Load More

    Leave a comment



    Similar Post You May Like

    advt_govt

    Trends

    Special Story