दुनियाभारत

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिले श्रीलंकाई राष्ट्रपति विक्रमसिंघे विभिन्न विषयों पर हुई चर्चा, NSA डोभाल ने भी विक्रमसिंघे से की मुलाकात

भारत की यात्रा पर आये श्रीलंका के राष्ट्रपति रानिल विक्रमसिंघे ने दोनों देशों के द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत करने के उद्देश्य से नई दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल से मुलाकात की इस दौरान उनकी विभिन्न आर्थिक, ऊर्जा, बिजली, बंदरगाह परियोजनाओं जैसे महत्वपूर्ण विषयों पर चर्चा हुई, श्रीलंकाई राष्ट्रपति रानिल विक्रमसिंघे की इस यात्रा से दोनों देशों के बीच गहरे संबंघों में एक नई गति मिलेगी।

भारत और श्रीलंका के बीच आर्थिक सहयोग के मुद्दों पर हुई चर्चा

श्रीलंका के राष्ट्रपति रानिल विक्रमसिंघे की भारत यात्रा के दौरान उन्होंने विभिन्न विषयों पर महत्वपूर्ण चर्चाएं की इस  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तथा विक्रमसिंघे ने दोनों देशों के बीच आपसी सहयोग को और बढ़ाने तथा द्विपक्षीय बातचीत को मजबूत करने पर चर्चा हुई, कुछ समय पहले श्रीलंका के वित्तीय संकट के समय इससे उबरने के लिए भारत ने बहुत मदद की थी।

क्या है भारत-श्रीलंका संबंधों का महत्व

भारत और श्रीलंका के संबंध विशेष रूप से दक्षिण एशियाई देशों के बीच आर्थिक सहयोग और विकास को मजबूत करने में महत्वपूर्ण हैं। दोनों देश अपने भू-भागीय स्थान के कारण एक दूसरे के लिए बेहद महत्वपूर्ण हैं। भारत के विकास से श्रीलंका को भी विशेष लाभ हो सकता है, जिससे उसकी आर्थिक स्थिति में सुधार हो सकता है।

भारत-श्रीलंका संबंधों में क्या है भविष्य की उम्मीद

भारत और श्रीलंका के संबंधों के भविष्य की उम्मीदें सकारात्मक हैं। दोनों देशों के बीच विभिन्न क्षेत्रों में आर्थिक सहयोग और विकास के लिए विशेष समझौते हो सकते हैं। इस यात्रा से दोनों देश एक-दूसरे के साथ गहरे संबंधों से नई योजनाएं बना सकते हैं, विक्रमसिंघे की इस यात्रा से दोनों देशों के बीच आर्थिक सहयोग को मजबूती मिलेगी और दोनों देशों के बीच परस्पर गहरे संबंध बनाए रखने का अवसर मिलेगा।

Read more…. सुबह – सुबह जयपुर में आये भूकंप के तीन बड़े झटके, डर ने की लोगो की नींद गायब, सड़क में पढ़ी हनुमान चालीसा

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button