शेयर बाजार

बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE) के शेयर ने 10 अगस्त को प्रारंभिक व्यापार में 6 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की

बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE) के शेयर ने 10 अगस्त को प्रारंभिक व्यापार में 6 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की, क्योंकि निवेशकों ने कंपनी की सकारात्मक कमाई का उपयोग जून तिमाही के लाभ बुक करने का एक मौका माना। पिछले दो हफ्तों में स्टॉक ने 24 प्रतिशत तक बढ़ोतरी की थी, जिसने निवेशकों को आंशिक लाभ घर ले लेने की अधिक स्वतंत्रता दी।

भारतीय स्टॉक बाजार में गिरावट

9:59 बजे, बीएसई के शेयर राष्ट्रीय स्टॉक एक्सचेंज पर 886.05 रुपये पर व्यापार कर रहे थे, पिछले बंद होने से 4 प्रतिशत कम। कंपनी के क्वार्टर 1 में प्रदर्शन के लिए, जून तिमाही के लिए बीएसई ने 440 करोड़ रुपये का नेट लाभ दर्ज किया। इस संख्या में जून तिमाही के दौरान 40 करोड़ रुपये के नेट लाभ से 11 गुना वृद्धि दर्ज हुई।

उच्च लाभ में तेज वृद्धि का कारण

इस समीक्षा के तहत तिमाही के लिए निम्नलिखित कारणों से शीर्ष लाभ में तेज वृद्धि हुई थी:

आफिलिएट CDSL में बीएसई का हिस्सा बेचना: जून में बीएसई ने अपने सहयोगी कंपनी केंद्रीय डिपॉजिटरी सेवाओं (इंडिया) में अपने हिस्से की बिक्री की थी, जो एसईबीआई के निर्देशों की आवश्यकता को पूरा करने के लिए एक कदम था।

नेट लाभ में वृद्धि का परिणाम

अपेक्षित आइटम को छोड़कर भी, बीएसई का नेट लाभ वर्ष के माध्यम से 82 प्रतिशत बढ़ा, जिससे यह क्वार्टर में नैतिक स्थिति में एक महत्वपूर्ण वृद्धि दर्ज कर सका।

प्रतिद्वंद्वी एनएसई की बजट वृद्धि

इसी तिमाही में बीएसई के तेजी से वृद्धि ने प्रतिद्वंद्वी एनएसई को पीछे छोड़ दिया, जो इसी समयांतर में नेट लाभ में 9 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज कर सकी।

निष्कर्ष

इस आलेख में हमने देखा कि बीएसई के क्वार्टर 1 में सकारात्मक कमाई की खबर से निवेशकों ने लाभ बुक करने का एक मौका देखा और इसके परिणामस्वरूप शेयरों की गिरावट हुई। बीएसई ने जून में अपने सहयोगी कंपनी सेंट्रल डिपॉजिटरी सर्विसेज (इंडिया) में हिस्से की बिक्री की वजह से नेट लाभ में तेज वृद्धि की है। इसके अलावा, हमने देखा कि नेट लाभ में वृद्धि के बावजूद निवेशकों ने आंशिक लाभ घर लेने का निर्णय लिया और इसके परिणामस्वरूप शेयरों में कमी आई।

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

1. बीएसई के शेयरों की गिरावट का क्या कारण है?
बीएसई के शेयरों की गिरावट का कारण उन निवेशकों की थी जिन्होंने सकारात्मक क्वार्टर 1 की कमाई का उपयोग लाभ बुक करने के लिए किया।

2. नेट लाभ में वृद्धि क्यों हुई?
नेट लाभ में वृद्धि का कारण बीएसई के सहयोगी कंपनी केंद्रीय डिपॉजिटरी सर्विसेज (इंडिया) में हिस्से की बिक्री थी, जिसने उनके निचले पंक्ति को तेजी से बढ़ा दिया।

3. निवेशकों ने लाभ बुक करने के लिए क्यों निर्णय लिया?
निवेशकों ने लाभ बुक करने का निर्णय इसलिए लिया क्योंकि शेयरों की मूल्य में बढ़ोतरी के बाद उन्हें आंशिक लाभ घर लेने का अवसर मिला था।

4. एनएसई के साथ तुलना में बीएसई का प्रदर्शन कैसा रहा है?
तुलना में, बीएसई ने एनएसई को पीछे छोड़ दिया है, क्योंकि उनके क्वार्टर 1 में नेट लाभ में तेज वृद्धि हुई है।

5. अगस्त 10 को बीएसई के शेयरों में क्यों हुई गिरावट?
अगस्त 10 को बीएसई के शेयरों में गिरावट होने का कारण था कि निवेशकों ने कंपनी की सकारात्मक कमाई का उपयोग लाभ बुक करने के लिए किया।

read more…The Reserve Bank of India (RBI) की तिमाही मौद्रिक नीति: ब्याज दर में कोई परिवर्तन नहीं

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button