राज्यउत्तर प्रदेश / यूपी

‘चंद्रयान-3’ की सफलता भारतीय अंतरिक्ष विज्ञान के स्वर्णिम युग का आरंभ: सीएम योगी

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ‘चंद्रयान-3 की सफलता को भारतीय अंतरिक्ष विज्ञान के स्वर्णिम युग का आरंभ कहा है। बुधवार को मिशन की सफलता के बाद अपने संदेश में मुख्यमंत्री ने कहा कि आदरणीय प्रधानमंत्री जी के विजनरी नेतृत्व में ‘वसुधैव कुटुम्बकम’ के भाव के साथ अर्जित इस उपलब्धि के लिए इसरो की टीम का हार्दिक अभिनंदन है।

सीएम योगी भी चंद्रयान-3 के चांद की सतह पर सफल लैंडिंग के साक्षी बने। सीएम योगी ने अपने आवास पर भारत की इस ऐतिहासिक उपलब्धि का सीधा प्रसारण देखा। चंद्रयान-3 की सफल सॉफ्ट लैंडिंग के बाद उन्होंने सभी को बधाई दी और इस उपलब्धि को नए भारत के सामर्थ्य और शक्ति का जोरदार प्रदर्शन करार दिया।

उन्होंने कहा कि अंतरिक्ष अनुसंधान में महाशक्ति बनने की ओर अग्रसर ‘नए आत्मनिर्भर भारत’ के सामर्थ्य और हौसले की नई उड़ान ‘चंद्रयान-3’ की स्वर्णिम सफलता पर हमें गर्व है। चंद्रयान-3 की सफलता के महत्व को रेखांकित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि इस मिशन से वैज्ञानिकों को अनुसंधान में काफी मदद मिलेगी और यह ब्रह्मांड के रहस्यों को सुलझाने में अत्यंत सहायक सिद्ध होगा। यह ‘नए आत्मनिर्भर भारत’ के अथाह सामर्थ्य का प्रतिबिंब है। भारत की यह सफलता समूची पृथ्वी, संपूर्ण मानवता और ‘नए आत्मनिर्भर भारत’ की सामर्थ्य को समर्पित है। उन्होंने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर भी चंद्रयान की सफल लैंडिंग का वीडियो शेयर करते हुए इसे 140 करोड़ भारतीयों के सपनों के साकार होने की बात कही। उल्लेखनीय है की भारत दुनिया का इकलौता देश है जिसने चांद के दक्षिणी ध्रुव पर लैंडिंग की है।

भारतीय वैज्ञानिकों ने असंभव को संभव करके दिखाया

अपने वीडियो संदेश में कहा कि प्रधानमंत्री मोदी जी के विजनरी नेतृत्व और मार्गदर्शन में इसरो के वैज्ञानिको ने वह कर दिखाया जो अबतक किसी ने नहीं किया था। भारत के वैज्ञानिकों ने चन्द्रमा के दक्षिणी ध्रुव मे, जो दुनिया के लिए असंभव था, उस पर उतरकर एक असंभव कार्य करके दिखाया है। सीएम योगी ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल के माध्यम से भी इसरो और समस्त देशवासियों को इस सफलता पर बधाई दी। उन्होंने चंद्रयान-3 की सफल लैंडिंग का वीडियो शेयर करते हुए लिखा, ‘140 करोड़ भारतीयों के सपनों के साथ चन्द्रमा पर उतरा चंद्रयान-3। जय हिंद!’ उन्होंने एक और ट्वीट में लिखा, ‘यह सफलता समूची पृथ्वी, संपूर्ण मानवता और ‘नए आत्मनिर्भर भारत’ के सामर्थ्य को समर्पित है। अभिनंदन! जय हिंद!’

Read more…सफल हुआ भारत का चंद्रयान 3 मिशन, दक्षिणी ध्रुव पर उतरने वाला दुनिया का पहला देश बना भारत

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button