मनोरंजनयात्रा

इस संग्रहालय का निर्माण 1934 में महाराजा गंगाधर राव ने किया था

कानपुर संग्रहालय उत्तर प्रदेश राज्य के कानपुर शहर में स्थित है। यह संग्रहालय ऐतिहासिक, सांस्कृतिक, और कला संबंधित आदि कई प्रकार के आइटम्स का भंडारण करता है संग्रहालय में व्यक्तिगत और शैलीकृत वस्त्र, आधुनिक और प्राचीन आभूषण, शिल्पकला के नमूने, म्यूजिकल इंस्ट्रूमेंट्स, आदि को प्रदर्शित करता है।

इस कानपुर संग्रहालय का निर्माण 1934 में हुआ था। यह कानपुर के महाराजा गंगाधर राव ने स्थापित किया था। संग्रहालय का उद्देश्य आदिवासी संस्कृतियों, क्रिया-कलाओं, और क्षेत्रीय आर्ट के अध्ययन के लिए सामग्री प्रदान करना है। कानपुर के ऐतिहासिक और सांस्कृतिक विकास की विविध प्रतिमाएँ और वस्त्रादि प्रदर्शित हैं। इस संग्रहालय के संग्रहण क्षेत्रों में अलग-अलग प्रकार के प्राचीन और मूल्यवान आइटम्स का संग्रहण होता है, जिनमें पुरातात्विक खगोलशास्त्र, पुरातात्विक संस्कृति, मूर्तिकला, चित्रकला, और दरबारी वस्त्र शामिल हैं। संग्रहालय एक शिक्षा और संस्कृति केंद्र के रूप में भी कार्यरत है, और यह आगामी पीढ़ियों को भारतीय सांस्कृतिक धरोहर के प्रति जागरूक करने में मदद करता है। कानपुर संग्रहालय एक महत्वपूर्ण सांस्कृतिक स्थल है जो कानपुर के ऐतिहासिक और कला धरोहर को जानने और समझने के लिए एक महत्वपूर्ण स्रोत है।

कानपुर पहुंचने के लिए आपके पास कई विभिन्न विकल्प हैं :-

हवाई जहाज़ से:

कानपुर के निकटवर्ती अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा चौधरी चरण सिंह अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे पर हवाई जहाज़ से पहुँच सकते हैं। ये कानपुर शहर से लगभाग 70 किलोमीटर की दूरी पर है। यहाँ से आपको देश के विभिन्न शहरों से उड़ानें मिल सकती हैं।

रेलवे से:

कानपुर एक महत्वपूर्ण रेलवे जंक्शन है। कानपुर सेंट्रल और कानपुर अनवरगंज रेलवे स्टेशन प्रमुख रेलवे स्टेशन हैं। यहां से देश के अन्य हिस्सों की ओर ट्रेन से जा सकते हैं। यहां से आप अनेक प्रमुख शहरों से ट्रेन से जुड़ सकते हैं।

सड़क मार्ग से:

कानपुर राष्ट्रीय राजमार्गों की सड़कों का उपयोग करके पहुंच सकते हैं। आपके निकटतम स्थल के आसपास के बस स्टैंड कानपुर पहुंच सकते हैं।

Read more….झांसी की ऐतिहासिक और प्राकृतिक धरोहर बरुआ सागर ताल

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button