राज्यउत्तर प्रदेश / यूपी

राज्य संग्रहालय के अधीन थारू जनजाति संस्कृति संग्रहालय इमिलिया कोडर, बलरामपुर का निर्माण कार्य पूरा तथा राजकीय बौद्ध संग्रहालय गोरखपुर के स्थापना का कार्य प्रगति के अंतिम चरण में

उ0प्र0 संग्रहालय के अन्तर्गत वित्तीय वर्ष 2022-23 के पूर्व स्वीकृत प्राकृतिक विज्ञान संग्रहालय लखनऊ के निर्माण के लिये 2100 करोड़ रूपये की धनराशि स्वीकृत की गयी थी। जिसके सापेक्ष 98 प्रतिशत कार्य पूरा हो गया है। सीसीटीवी, साउंड सिस्टम एवं एसी आदि की स्थापना के लिये कार्यदायी संस्था को धनराशि उपलब्ध करा दी गयी है। निर्माण कार्य की गुणवत्ता जांच भी आईआईटी कानपुर द्वारा करा ली गयी है।

प्रदेश के पर्यटन मंत्री जयवीर सिंह ने  बताया कि इसी प्रकार थारू जनजाति संस्कृति संग्रहालय इमिलिया कोडर, बलरामपुर का निर्माण कार्य 2354.68 लाख रूपये की लागत से पूरा करा लिया गया है। इसके अलावा राजकीय बौद्ध संग्रहालय, गोरखपुर की अवस्थापना का उन्नयन कार्य लगभग 90 प्रतिशत पूरा हो चुका है। इसकी भी गुणवत्ता जांच शासन को उपलब्ध करा दी गयी है।

मंत्री जयवीर सिंह ने बताया कि राज्य संग्रहालय, लखनऊ में स्थित अवध वीथिका (नवाबी कला) के सुदृढकीरण एवं नवीनीकरण का कार्य 96 प्रतिशत पूरा हो चुका है। इसके अतिरिक्त राज्य संग्रहालय, लखनऊ में अत्याधुनिक तकनीक के अग्निशमन संयंत्र की आपूर्ति एवं स्थापना का कार्य 95 प्रतिशत पूरा हो गया है। उन्होने बताया कि टेस्टिंग का कार्य इस महीने के अंत तक पूरा कर लिया जायेगा।

पर्यटन मंत्री ने बताया कि राजकीय बौद्ध संग्रहालय, गोरखपुर की पार्किंग एरिया के विकास के अन्तर्गत संग्रहालय परिसर में पर्यटकों के लिये वाहन स्टैण्ड, कैण्टीन, शौचालय एवं अम्ब्रेलाहट, वाटर कूलर, सीटिंग बेंच, आदि के निर्माण का कार्य लगभग 36 प्रतिशत पूरा हो गया है। उन्होने बताया कि सभी निर्माण कार्यों की थर्ड पार्टी जांच कराने के निर्देश दिये गये है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button