ब्रिटेन में क्रिसमस से पहले आएगी कोविड-19 वैक्सीन

ब्रिटेन में क्रिसमस से पहले आएगी कोविड-19 वैक्सीन

दुनिया के लिए बड़ी खुशखबरी है | ब्रिटेन के स्वास्थ्य मंत्री मैट हैनकॉक ने सोमवार को कहा कि क्रिसमस से पहले फाइजर कंपनी की वैक्सीन बाजार में आ जाएगी | हैनकॉक ने एक इंटरव्यू में ये बात कही | हैनकॉक ने कहा कि हमारी तैयारी तो 1 दिसंबर से कोविड-19 की वैक्सीन बाजार में लाने की है लेकिन ये मानकर चलिए कि ये क्रिसमस से पहले मार्केट में आ जाएगी | जब उनसे ये पूछा गया कि ब्रिटेन को कितनी वैक्सीन की जरूरत पड़ेगी, इसके जवाब में उन्होंने कहा कि यह इस बात पर निर्भर करता है कि हम कोरोना संक्रमण को तब तक कितने प्रभावी तरीके से रोक पाने में सफल हो पाते हैं | एक अच्छी खबर ये भी है कि साल के अंत से पहले अमेरिका समेत दुनिया के कई देशों में कोविड-19 की दूसरी वैक्सीन बाजार में आ जाएगी | इस वैक्सीन को बनाने वाली कंपनी ने दावा किया है कि हम साल के अंत से पहले अमेरिका समेत दुनिया के कई देशों में अपनी वैक्सीन बाजार में ला देंगे | इस वैक्सीन का कोविड-19 पर प्रभाव 94.5 फीसदी बताया जा रहा है | 

दूसरी वैक्सीन को डेवलप करने वाली कंपनी का नाम मॉडर्ना (Moderna) है | कंपनी का दावा है कि उनकी वैक्सीन कोरोनावायरस पर 94.5 फीसदी प्रभावी है | इसके एक हफ्ते पहले फाइजर कंपनी ने अपनी दवा की सफलता का दावा किया था | अब दोनों ही कंपनियां अपनी-अपनी वैक्सीन के आपातकालीन उपयोग के लिए अमेरिका में अनुमति का इंतजार कर रही हैं | मॉडर्ना के प्रेसीडेंट डॉ. स्टीफन होग ने कहा कि यह इस आपातकालीन स्थिति में बड़ी उपलब्धि है | जब दो दवा कंपनियों की तरफ से एक ही तरह के सकारात्मक परिणाम आते हैं तो उससे एक अच्छी उम्मीद बनती है | इस दवा से पूरी दुनिया का इलाज होगा | हमें उम्मीद है कि हम कोरोनावायरस को हराने में जरूर सफल होंगे | डॉ. स्टीफन होग ने कहा कि मॉडर्ना अकेली कंपनी नहीं है जो कोविड-19 को हराने में लगी है | हमें कई तरह के वैक्सीन की जरूरत होगी | इसे दुनियाभर की दवा कंपनियां बना रही हैं | पिछले एक हफ्ते में अमेरिका में 10 लाख केस सामने आए हैं | इस महामारी ने पूरी दुनिया में 13 लाख से ज्यादा लोगों को मार दिया है | जबकि, 2.45 लाख लोग सिर्फ अमेरिका में मारे गए हैं | फूड एंड ड्रग्स एडमिनिस्ट्रेशन (FDA) फाइजर और मॉडर्ना दोनों ही दवा कंपनियों को उनकी वैक्सीन का सिर्फ आपातकालीन उपयोग करने की ही अनुमति देगी | दोनों कंपनियों की वैक्सीन की हर कोरोना पीड़ित को दो डोज लगाई जाएंगी | मॉडर्ना को उम्मीद है कि अमेरिका में उनकी वैक्सीन के 2 करोड़ डोज साल के अंत से पहले बाजार में आ जाएंगे | जबकि, फाइजर की वैक्सीन क्रिसमस से पहले ब्रिटेन के बाजार में आ जाएगी | 


    Share this story