चीन में एक नई बीमारी फैल गई, हो रही 21 हजार से ज्यादा लोगो की जांच

Medhaj News 21 Sep 20 , 11:59:53 World Viewed : 1086 Times
bactria.jpg

अभी कोरोना खत्म भी नहीं हुआ कि इस बीच चीन में एक नई बीमारी फैल गई है | इस बीमारी ने 3245 लोगों को अपनी चपेट में ले लिया है | इन सभी लोगों की जांच हुई थी, जिसके बाद लोग पॉजिटिव मिले | उत्तर-पश्चिम चीन के गांसू प्रांत के लान्झोउ में ये लोग इन नई बीमारी से संक्रमित हुए हैं | लान्झोउ वेटरीनरी रिसर्च इंस्टीट्यूट ने दिसंबर में ही इस बीमारी के एंटीबॉडी की सूचना चीन की सरकार को दी थी | चीन के गांसू प्रांत में अब तक 21,847 लोगों की जांच की जा चुकी है | इनमें से 4,646 लोग प्राइमरी तौर पर पॉजिटिव पाए गए हैं | जबकि, 3245 लोग स्पष्ट तौर पर इस बीमारी से संक्रमित या पॉजिटिव है | गांसू प्रोविंशियल सेंटर फॉर डिजीस कंट्रोल एंड प्रिवेंशन ने बताया कि इस बीमारी का नाम ब्रूसेलोसिस (Brucellosis) है |  ब्रूसेलोसिस (Brucellosis) पर निगरानी रखने के लिए लान्झोउ वेटरीनरी रिसर्च इंस्टीट्यूट ने देश के 11 पब्लिक मेडिकल इंस्टीट्यूशंस और अस्पतालों को काम पर लगा दिया है | इन अस्पतालों में ब्रूसेलोसिस (Brucellosis) के मरीजों की मुफ्त जांच और इलाज होगा | साथ ही लोगों को इससे बचने के लिए जागरूक किया जाएगा | इसके लिए मौके पर ही काउंसलिंग की जा रही है | 

लोगों को इस बीमारी के बारे में बताने के लिए ऑ़नलाइन काउंसलिंग भी की जा रही है | जो लोग बीमार हुए हैं उनकी महीने भर में कई बार जांच की जा रही है | उनके हेल्थ रिकॉर्ड्स को लगातार मॉनीटर किया जा रहा है | ब्रूसेलोसिस (Brucellosis) के लिए अब तक 23,479 लोगों की काउंसलिंग की जा चुकी है |  इसके अलावा 3,159 लोगों के नए हेल्थ रिकॉर्ड्स बनाए गए हैं | इसके अलावा गांसू प्रांत में जागरुकता के लिए 15 हजार प्रचार सामग्री बांटी गई है | ब्रूसेलोसिस (Brucellosis) एक ऐसी बीमारी है जो बैक्टीरिया से होता है | 24 जुलाई 2019 से 20 अगस्त 2019 तक झोन्गमू लॉन्झोउ बायोलॉजिकल फार्मास्यूटिकल फैक्ट्री ने इस ब्रूसेला वैक्सीन बनाने के लिए एक्सपायर्ड डिसइंफेक्टेंट का उपयोग किया था | इस वैक्सीन का उपयोग जानवरों के इलाज के लिए होता है | आमतौर पर भेड़-बकरियों के लिए | लेकिन जिस फर्मेंटेशन टैंक में बेकार डिसइंफेक्टेंट रखा था उससे वेस्ट गैस निकल रही थी | जब टैंक खाली किया गया तो जो तरल पदार्थ टैंक से बाहर निकला उसमें ब्रूसेलोसिस (Brucellosis) बीमारी फैलाने वाले बैक्टीरिया थे | इसके अलावा उस तरल पदार्थ से काफी ज्यादा मात्रा में वेस्ट गैस निकल रही थी | इस गैस और तरल पदार्थ की वजह से हवा में बैक्टीरिया फैल गए और ब्रूसेलोसिस (Brucellosis) बीमारी से ग्रसित हो गए | अब भी हो रहे हैं | 

13 जनवरी 2020 को लॉन्झोउ बायोलॉजिकल फार्मास्यूटिकल फैक्ट्री का वैक्सीन बनाने का लाइसेंस रद्द कर दिया गया | इसके बाद उसके यहां बन रही ब्रूसेलोसिस (Brucellosis) वैक्सीन के स्ट्रेन एस-2 और ए-19 को 15 जनवरी को रद्द कर दिया गया | इस वैक्सीन से जुड़े अन्य सात मेडिकल उत्पादों के लाइसेंस को रद्द कर दिया गया | आठ लोगों को चीन की सरकार ने लोगों की जान जोखिम में डालने के लिए सख्त सजा भी दी | जो 3245 लोग बीमार हुए हैं, उनमें से 2773 लोगों की दोबारा जांच करने को कहा गया है ताकि यह पता चल सके कि कहीं इन लोगों की वजह से अन्य लोगों को खतरा तो नहीं है | इनकी बीमारी ने कितना बड़ा रूप धारण किया है | ब्रूसेलोसिस (Brucellosis) को मेडिटेरेनियन फीवर (Mediterranean fever) भी कहते हैं | यह ब्रूसेला नाम के बैक्टीरिया से होता है | आमतौर पर यह बीमारी मवेशियों को होती है | जब आदमी इस बीमारी से संक्रमित होता है तो उसे तेज सिरदर्द, बुखार और बेचैनी होती है | यह ऐसी बीमारी है जिसकी वजह से पुरुषों और महिलाओं के अंडकोष खराब हो सकते हैं | इसके अलावा यह प्रजनन क्षमता और प्रजनन प्रणाली को पूरी तरह से खत्म कर सकता है |    



 


    8
    0

    Comments

    • Be careful

      Commented by :Aslam
      21-09-2020 21:33:10

    • Be alert

      Commented by :Santu kumar singh
      21-09-2020 20:15:15

    • Ok

      Commented by :Sushil Kumar Gautam
      21-09-2020 18:38:31

    • Ok

      Commented by :Rinku Ansari
      21-09-2020 17:31:44

    • Ok

      Commented by :Govind Lal
      21-09-2020 16:08:56

    • Bad timing start now..

      Commented by :Pankaj Kumar.
      21-09-2020 12:13:21

    • Load More

    Leave a comment



    Similar Post You May Like

    Trends

    Special Story