पाकिस्तान में भी चीनी वीडियो ऐप TikTok बैन, जाने वजह

Medhaj News 9 Oct 20 , 19:06:38 World Viewed : 753 Times
4.PNG

भारत और अमेरिका के बाद अब चीन के सबसे करीबी मित्र देश पाकिस्तान में भी चीनी वीडियो ऐप टिकटॉक पर पाबंदी लगा दी गई है। पाकिस्तान टेलीकम्युनिकेशन अथॉरिटी ने बैन लगाते हुए हवाला दिया है कि समाज के कई वर्गों से शिकायत आ रही थी कि टिकटॉक वीडियो ऐप के ज़रिए अश्लीलता और फूहड़ता फैलाई जा रही है।

पाकिस्तान टेलीकम्युनिकेशन अथॉरिटी द्वारा जारी विज्ञप्ति के अनुसार, ऐप पर "अनैतिक/अशोभनीय सामग्री शेयर करने के खिलाफ कई श‍िकायतें मिली थीं। अथॉरिटी ने बताया कि टिकाटॉक को अंतिम नोटिस जारी कर जवाब देने के लिए पर्याप्त समय दिया गया था ताकि गैरकानूनी ऑनलाइन सामग्री के मॉडरेशन का कोई प्रभावी तंत्र बनाया जा सके। हालांकि, कंपनी अथॉरिटी के निर्देशों का "पूरी तरह से पालन करने में विफल रही" जिसके बाद देश में इसे प्रतिबंधित करने का फैसला किया गया।

इससे पहले 18 सितंबर को अमेरिका ने राष्ट्रीय सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए वह लोकप्रिय चीनी सोशल मीडिया ऐप टिकटॉक और वीचैट पर प्रतिबंध लगाने की घोषणा की थी। अमेरिका ने कहा था कि वे देश की संप्रभुता, अखंडता और सुरक्षा के लिये पूर्वाग्रही थे।

बता दें कि भारत सरकार ने 29 जुलाई को चीन के कुल 59 ऐप पर रोक लगा दी थी। इसमें टिकटॉक, वीगो वीडियो, हेलो, यूसी ब्राउजर, यूसी न्यूज, वीचैट और शेयरचैट जैसी चर्चित ऐप शामिल थे। भारत सरकार ने देश की संप्रभुता और अखंडता और डेटा सुरक्षा को खतरा बताते हुये इन ऐप को बंद किया था। लेकिन सरकार के इस निर्णय को 15 जून को लद्दाख की गलवान घाटी में भारत-चीन के बीच हुए हिंसक संघर्ष से जोड़कर देखा गया था।


    0
    0

    Comments

    Leave a comment



    Similar Post You May Like

    Trends

    Special Story