मलेशिया की सरकार महिलाओं को क्यों दे रही है मेकअप करने की सलाह?

Medhaj News 1 Apr 20,20:44:20 , World Viewed : 7 Times
pic.png

मलेशिया की सरकार ने कोरोना वायरस को लेकर महिलाओं को बेहद अजीब सलाह दी है | लॉकडाउन के दौरान महिला विरोधी सलाह को लेकर मलेशिया सरकार की चौतरफा आलोचना हो रही है | मलेशिया के महिला और परिवार कल्याण मंत्रालय ने लॉकडाउन के दौरान घर से काम कर रहीं पत्नियों और मांओं के लिए घर में प्रोडक्टिव रहने और शांति बनाए रखने के लिए कई एडवाइजरी जारी की थी | एक पोस्टर में महिलाओं को घर से काम करने के दौरान हमेशा की तरह सजने-संवरने और अच्छे कपड़े पहनने की सलाह दी गई है | मंत्रालय ने लॉकडाउन को छुट्टी बताते हुए लिखा, मांओं के लिए इतनी लंबी छुट्टियां और घर से काम करना मुश्किल हो सकता है क्योंकि अक्सर उनका ध्यान भटक जाता है | सोशल मीडिया पर मंत्रालय ने एक पोस्ट में महिलाओं को ये भी सलाह दी थी कि अगर उनके पार्टनर से घर के काम में कोई गलती हो जाती है तो उसे ज्यादा तूल ना दें |





हालांकि, आलोचना होने पर इस पोस्ट को हटा लिया गया | मंत्रालय ने सोफे पर आराम करते हुए एक शख्स के पोस्टर पर सुझाव लिखा था, अगर आप अपने पार्टनर को कुछ गलत करते हुए देखती हैं तो उसकी ज्यादा शिकायत ना करें और मजाकिया अंदाज इस्तेमाल करें | इसमें पति के सामने डोरेमन कार्टून की आवाज में बोलने के लिए भी कहा गया था | वहीं, कुछ पोस्ट में महिलाओं से कहा गया कि वे अपने पतियों से घर के काम में मदद मांगते वक्त तंज वाले लहजे का इस्तेमाल ना करें | गुस्सा या आहत होने पर 20 तक उल्टी गिनती गिने और समझदारी से काम लेते हुए शांत रहें |





महिला संगठनों ने मंत्रालय की ओर से जारी की गई एडवाइजरी की आलोचना की है | 'ऑल वुमेन्स ऐक्शन सोसायटी' ने कहा - महिलाओं के पास मेक-अप करने और अच्छा दिखने के अलावा और भी बहुत काम हैं | महिलाएं भी इंसान हैं, कोई सामान नहीं | संगठन ने लिखा - घर से काम करने के दौरान ठीक तरह से ड्रेसिंग करना अनुशासन में रहने और ऑफिस रूटीन लागू करने का एक तरीका हो सकता है लेकिन मेकअप और लुक पर जोर देने की सलाह बिल्कुल गैर-जरूरी है | इस तरह के महिला विरोधी बयान देने के बजाय मंत्रालय को घरेलू हिंसा पीड़ितों पर ध्यान देना चाहिए जो अभी ज्यादा खतरे में हैं | मलेशिया में अब तक कोरोना वायरस संक्रमण के 2767 मामले सामने आ चुके हैं और अब तक इससे 43 मौतें हो चुकी हैं |


    0
    0

    Comments

    Leave a comment



    Similar Post You May Like

    Trends

    Special Story