मोदी सरकार को एक और सफलता मिली, इस सीक्रेट डील पर भारत और जापान ने मिलाया हाथ

Medhaj News 4 Jul 20 , 09:46:00 World Viewed : 1165 Times
china.png

मोदी सरकार को एक और सफलता मिली है | जापान (Japan) अब चीन के खिलाफ भारतीय सेना के साथ सीक्रेट डील को तैयार हो गया है | उसने डिफेंस इंटेलिजेंस (Defence Intelligence) साझा करने के लिए अपने कानून में बदलाव किया है | इस बदलाव के साथ ही जापान अमेरिका के अलावा भारत, ऑस्ट्रेलिया और ब्रिटेन के साथ डिफेंस इंटेलिजेंस साझा करेगा | जापान के सीक्रेट कानून के दायरे में यह विस्तार पिछले महीने किया गया | इससे पहले जापान केवल अपने निकटतम सहयोगी अमेरिका के साथ ही डिफेंस इंटेलिजेंस साझा करता था, लेकिन अब इस सूची में भारत, ऑस्ट्रेलिया और ब्रिटेन भी शामिल हो गए हैं | विवादों के बीच 2014 में लागू हुए इस कानून के मुताबिक, जापान की राष्ट्रीय सुरक्षा को खतरा पहुंचाने वाली जानकारी लीक करने पर जुर्माने के साथ ही 10 साल की सजा का भी प्रावधान है | इस कानून के तहत रक्षा, कूटनीति और काउंटर-टेररिज्म आते हैं |

विदेशी सेना से मिली जानकारी को स्टेट सीक्रेट के रूप में वर्गीकृत करने से संयुक्त अभ्यास और उपकरणों के विकास के लिए समझौतों में मदद मिलेगी | साथ ही चीनी सेना के मूवमेंट के बारे में डेटा साझा करना भी आसान हो जाएगा | जापान का यह कदम उसके लिए भी काफी फायदेमंद होगा, क्योंकि बीजिंग पूर्वी चीन सागर में जापान को लगातार परेशान कर रहा है और उसके लिए चीन की गतिविधियों पर अपने दम पर नजर रखना कठिन हो गया है | पूर्वी चीन सागर में चीनी गतिविधियों में हाल के वक्त में काफी तेजी आई है | जापान के शासन वाले सेंकाकू टापू (Senkaku Islands) के आसपास चीन के कोस्ट गार्ड शिप चक्कर काटते रहते हैं | चीन इस द्वीप को दियाऊ करार देकर उस पर अपना दावा ठोकता है | गुरुवार को लगातार 80वें दिन चीनी जहाज यहां पहुंचे थे |  सीक्रेट कानून में बदलाव के तहत जापान ने भारत, ब्रिटेन, ऑस्ट्रेलिया और फ्रांस के साथ ऐसे समझौतों पर हस्ताक्षर किये हैं, जो दोनों पक्षों को वर्गीकृत रक्षा जानकारी को गुप्त रखने के लिए बाध्य करते हैं | सभी देश डेटा लीक होने के खतरे को कम करते हुए एक-दूसरे से डिफेंस जानकारी साझा करेंगे | इस समझौते में रक्षा उपकरणों का संयुक्त विकास भी शामिल है, जिसमें अक्सर शक्तिशाली और वर्गीकृत प्रौद्योगिकी साझा करनी होती है | जापान और ब्रिटेन ने एक प्रोटोटाइप एयर-टू-एयर मिसाइल बनाई है, जबकि टोक्यो पेरिस के साथ अंडरवॉटर माइन डिटेक्ट करने के लिए मानवरहित क्राफ्ट पर काम कर रहा है |  इसके अलावा, जापान ब्रिटेन के साथ F-2 फाइटर जेट पर भी काम कर रहा है, जिसे 2030 के मध्य तक तक तैनात करने की योजना है | 


    37
    0

    Comments

    • Very good

      Commented by :Mithilesh Kumar Singh
      05-07-2020 06:05:46

    • Very good

      Commented by :Pravesh Kumar Satyarthi
      04-07-2020 22:12:59

    • Good

      Commented by :Ashish kumar nainital
      04-07-2020 20:34:53

    • V. Good

      Commented by :Abhishek Pandey
      04-07-2020 18:10:18

    • Very good

      Commented by :Amit Kumar
      04-07-2020 15:20:40

    • Good

      Commented by :Ajeet Kumar
      04-07-2020 14:03:51

    • Good

      Commented by :Tajuddin Akhtar
      04-07-2020 14:00:33

    • Good

      Commented by :Nidhi Azad
      04-07-2020 13:17:14

    • Good

      Commented by :Sameer Siddiquee Almora
      04-07-2020 11:40:59

    • Good

      Commented by :BAL GANGADHAR TILAK
      04-07-2020 11:22:43

    • good

      Commented by :Sushil Kumar Gautam
      04-07-2020 10:58:16

    • Modi hai to mumkin hai.

      Commented by :G.N.Tripathi
      04-07-2020 10:51:11

    • Good news

      Commented by :Brijesh Patel
      04-07-2020 10:34:47

    • Good news for India

      Commented by :Akhilesh Mishra
      04-07-2020 10:24:12

    • Good

      Commented by :Priyatosh ranjan
      04-07-2020 10:20:22

    • Good News

      Commented by :Ajay Kumar Azad
      04-07-2020 10:19:23

    • Good news

      Commented by :Aditya singh
      04-07-2020 10:16:56

    • Good news

      Commented by :Pankaj mishra
      04-07-2020 10:10:00

    • good news

      Commented by :Govind Lal
      04-07-2020 10:07:06

    • Accurate news

      Commented by :Vikalp Gupta
      04-07-2020 10:05:16

    • Good news

      Commented by :Raghunath Patra
      04-07-2020 10:05:06

    • Good news

      Commented by :Abhinash mishra
      04-07-2020 10:01:08

    • Good News

      Commented by :Vikas Yadav
      04-07-2020 09:54:06

    • Load More

    Leave a comment



    Similar Post You May Like

    Trends

    Special Story