advy_govt

अलीबाबा के मालिक जैक मा क्यों हो रहे हैं चीनियों की नफरत का शिकार जाने

Medhaj News 26 Dec 20 , 06:10:18 World Viewed : 965 Times
03china_ant_1_articleLarge_v3.jpg

युवा चीनियों के सामने अच्छी सैलरी की सम्मानित नौकरियों के अवसर कम हैं।यह सब तब शुरू हुआ जब जैक मा ने चीन के वित्तीय नियामकों (Financial regulators) की इस बात के लिए लताड़ लगाई कि वो जोखिम लेना बिल्कुल पसंद नहीं करते। मा ने चीन के बैंकों पर 'सुदखोर सेठों' जैसा व्यवहार करने का आरोप लगाते हुए कहा कि वो सिर्फ उन्हीं को लोन देते हैं जो बदले में कुछ गिरवी रखें। नतीजतन, अलीबाबा के खिलाफ ऐंटी ट्रस्ट इन्वेस्टिगेशन का ऐलान होते ही गुरुवार को ही रेग्युलेटरी एजेंसियों ने भी फरमान जारी कर दिया कि उनके अधिकारी ऐंट ग्रुप की निगरानी के लिए उठाए जाने वाले कदमों की रूपरेखा तय करेंगे।

दरअसल, चीन के आम नागरिकों में सरकार के खिलाफ भी नाराजगी बढ़ रही है। चीन में उन लोगों की संख्या बढ़ रही है जिन्हें लगता है कि अब देश में जैक मा जैसी सफलता पाने का अवसर नहीं मिल पाएंगे। बावजूद इसके कि कोरोना वायरस के कोहराम के बाद चीन की इकॉनमी फिर से उठ खड़ी हुई है। चीनियों में सरकार और धनाढ्य वर्ग के प्रति गुस्से की एक वजह यह भी है कि वहां खरबपतियों की संख्या अमेरिका और भारत के कुल खरबपतियों की संयुक्त संख्या से भी ज्यादा है। लेकिन, चीन में 60 करोड़ आबादी की मासिक आमदनी 150 डॉलर या इससे भी कम है।

इस साल के पहले 11 महीनों में राष्ट्रीय खपत में 5% की गिरावट दर्ज की गई है जबकि पिछले साल के मुकाबले इस वर्ष चीन में ऐशो-आराम की वस्तुओं की खपत (Luxury consumption) 50% बढ़ने की उम्मीद है। युवा चीनियों के सामने अच्छी सैलरी की सम्मानित नौकरियों के अवसर कम हैं। पहली बार घर खरीदने वालों के लिए शानदार शहरों में मकान बहुत महंगे हो गए हैं। जिन युवकों ने जैक मा के ऐंट ग्रुप जैसी फिनटेक कंपनियों से लोन लिया है, उनका कर्ज तेजी से बढ़ रहा है।


    3
    0

    Comments

    • Ok

      Commented by :Rinku Ansari
      26-12-2020 11:46:57

    • Load More

    Leave a comment



    Similar Post You May Like

    advt_govt

    Trends

    Special Story