कैंसर के लिए फंड मिला तो महिला ने अय्याशी में उड़ा दिए पैसे

कैंसर के लिए फंड मिला तो महिला ने अय्याशी में उड़ा दिए पैसे

यूके की एक महिला पर धोखाधड़ी का आरोप लगा है | इस महिला ने अपने आपको कैंसर पीड़ित बताते हुए ऑनलाइन फंडिंग की रिक्वेस्ट की और जब इन्हें ये फंड्स मिल गए तो उन्होंने इन पैसों के इस्तेमाल से कई सारी चीजें भी कीं जिनमें ऑनलाइन गैंबलिंग भी शामिल है | 42 साल की निकोल पर आरोप है कि उन्होंने गोफंडमी पेज पर अपने आपको एक कैंसर पीड़ित महिला बताया | इस पेज पर निकोल की एक तस्वीर भी देखी जा सकती है जिसमें वे काफी कमजोर नजर आ रही हैं और वे एक ब्लैंकेट के साथ देखी जा सकती हैं | 

हालांकि ये तस्वीर उनकी कैंसर की बीमारी से जुड़ी हुई नहीं है बल्कि ये तस्वीर उस ऑपरेशन की है जब उन्होंने अपना गॉल ब्लैडर हटवाया था | बता दें कि कैंसर पर झूठ बोलकर निकोल ने 45 हजार पाउंड की फंडिंग जुटा ली थी | इस मामले में अभियोजक बेन इर्विन का कहना था कि ये सब झूठ निकोल ने अपनी लाइफस्टायल को मेंटेन करने के लिए बोला गया था | अभियोजक ने कहा कि उन्होंने उस पैसों का इस्तेमाल अपनी कैंसर ट्रीटमेंट के लिए नहीं किया बल्कि उन्होंने इन पैसों से कई अलग-अलग चीजें कीं जिनमें ट्रैवलिंग, ऑनलाइन गैंबलिंग, रेस्टोरेंट्स बिल्स और फुटबॉल मैच देखने के लिए एयर टिकेट्स भी शामिल हैं | वहीं, इस मामले में गायनोकोलॉजिस्ट और निकोल की दोस्त निकोलस मॉरिस ने भी दावा किया कि निकोल को किसी भी तरह का कैंसर नहीं है और वे कभी उनकी मरीज नहीं रही हैं और ना ही निकोल ने कभी उनके क्लीनिक को विजिट किया है | बता दें कि निकोल को 39 लोगों ने डोनेट किया था |   



 


    Share this story