राज्यउत्तर प्रदेश / यूपी

प्रदेश में बिजली से संबंधित विभिन्न प्रकार की शिकायतों का त्वरित व संतोषजनक निवारण कर रही योगी सरकार

उत्तर प्रदेश में योगी सरकार जन समस्याओं व शिकायतों के निस्तारण को लेकर बेहद गंभीर है। सीएम योगी की मंशा के अनुरूप उत्तर प्रदेश पावर कॉर्पोरेशन लिमिटेड (यूपीपीसीएल) ने शिकायतों के निस्तारण के मामले में मिसाल पेश की है। यूपीपीसीएल द्वारा संचालित टोल फ्री नंबर 1912 पर विद्युत आपूर्ति संबंधी लोगों की शिकायतों का निस्तारण त्वरित व संतोषजनक तरीके से किया जा रहा है। उल्लेखनीय है कि 12 अप्रैल 2017 से 12 जुलाई 2023 तक 6 वर्षों में सभी डिस्कॉम्स में अब तक कुल मिलाकर 15014597 शिकायतें दर्ज कराई गई थीं जिसमें से 14982965 का निस्तारण हो चुका है जबकि 31362 लंबित हैं। इस प्रकार कुल 99.78 प्रतिशत शिकायतों का निपटारा 6 वर्षों में किया जा चुका है। वहीं, अगर इस वर्ष की बात की जाए तो कुल 5864061 शिकायतें 12 जुलाई तक दर्ज की गई थीं। इनमें से 5835249 का निपटारा किया जा चुका है, जबकि 28812 समस्याएं ही लंबित है। कुल मिलाकर साल 2022-2023 के बीच 99.50 प्रतिशत शिकायतों का निस्तारण किया जा चुका है जो कि 1912 की सार्थकता और उत्तर प्रदेश पावर कॉर्पोरेशन लिमिटेड की कार्य कुशलता को प्रदर्शित करता है।

मध्यांचल विद्युत वितरण निगम में दर्ज हुईं सर्वाधिक शिकायतें

पिछले 6 वर्षों में सभी डिस्कॉम्स में से सबसे ज्यादा शिकायतें मध्यांचल विद्युत वितरण निगम लिमिटेड में दर्ज की गई हैं। कुल 67.32 लाख शिकायतें पिछलें 6 वर्षों में इस डिस्कॉम में दर्ज की गईं। जबकि, इनमें से 6718397 का निस्तारण हो चुका है और केवल 14398 शिकायतें लंबित हैं। इस तरह, 99.78 प्रतिशत शिकायतों के निस्तारण की दर मध्यांचल डिस्कॉम में कुल मिलाकर रही। अगर पिछले एक वर्ष में बात करें तो कुल 25.74 लाख शिकायतें दर्ज की गईं। इनमें से 25.61 लाख शिकायतों का निस्तारण कर दिया गया है जबकि 13352 मामले लंबित हैं। कुल मिलाकर, शिकायतों के निस्तारण की दर 99.48 प्रतिशत रही।

एबी केबल बिछाने व निजी नलकूपों को उर्जीकृत करने पर जोर

पिछले 6 वर्षों में दक्षिणांचल में 23.48 लाख में से 23.44 लाख, पूर्वांचल में 21.91 लाख में से 21.83 लाख, पश्चिमांचल में 37.15 लाख में से 37.11 लाख व केस्को में 25776 में से 25623 का निपटारा किया जा चुका है। वहीं पिछले एक वर्ष में दक्षिणांचल में 10.54 लाख में से 10.50, मध्यांचल में 25.74 लाख में से 25.61 लाख, पूर्वांचल में 8.76 लाख में से 8.59 लाख वहीं पश्चिमांचल डिस्कॉम में 13.41 लाख में से 13.38 लाख शिकायतों का निपटारा किया जा चुका है। केस्को में 25776 शिकायतों में से 25645 का निस्तारण हो चुका है। जबकि सभी डिस्कॉम्स को मिलाकर कुल 28812 केस लंबित हैं। दूसरी ओर, पिछले एक साल में उत्तर प्रदेश पावर कॉर्पोरेशन लिमिटेड ने 17804 किमी तक एरियल बंडल्ड केबल्स (एबी केबल) को बिछाने में सफलता हासिल की है। वहीं, पोर्टल की शुरुआत से अब तक प्रदेश में कुल 1.55 लाख निजी नलकूपों को उर्जीकृत किया गया है। जबकि, एक अप्रैल 2022 से 13 जुलाई 2023 तक कुल मिलाकर 78931 निजी नलकूपों को उर्जीकृत करने में उत्तर प्रदेश पावर कॉर्पोरेशन लिमिटेड ने सफलता हासिल की है।

Read more…जीएसटी रिटर्न दाखिल करने के लिए व्यापारियों को करें प्रशिक्षित: सीएम योगी

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button