राज्यउत्तर प्रदेश / यूपी

क्विज, एग्जिबिशन और एक्सपोजर विजिट के माध्यम से बच्चों में वैज्ञानिक मनोवृत्ति का विकास करेगी योगी सरकार

उच्च प्राथमिक विद्यालयों के बच्चों में जिज्ञासा आधारित शिक्षा को बढ़ावा देने, वैज्ञानिक मनोवृत्ति का विकास करने, प्रयोग के अवसर उपलब्ध कराने तथा विज्ञान, गणित एवं प्रौद्योगिकी को लोकप्रिय बनाने के उद्देश्य से योगी सरकार राष्ट्रीय अविष्कार अभियान के अंतर्गत प्रदेश में विभिन्न गतिविधियों को शुरू करने का निर्णय लिया है। इसके तहत सरकार की ओर से जनपद और विकास खंड स्तर पर गतिविधियों के संचालन के निर्देश दिए गए हैं। इन गतिविधियों में ब्लॉक स्तर पर क्विज प्रतियोगिता का आयोजन, जनपद स्तर पर विज्ञान प्रदर्शनी का आयोजन, प्रदेश के अंदर और प्रदेश के बाहर बच्चों की एक्सपोजर विजिट जैसी गतिविधियों को सुनिश्चित किया जाना है। इन कार्यक्रमों के संचालन के लिए सरकार ने वार्षिक कार्ययोजना एवं बजट 2023-24 में 17.46 करोड़ की धनराशि स्वीकृत है, जिसे जनपदों को जारी किया जा रहा है। उल्लेखनीय है कि ‘राष्ट्रीय आविष्कार अभियान’ भारत सरकार के शिक्षा मंत्रालय द्वारा संचालित किया जा रहा है। योगी सरकार इसी कार्यक्रम को उत्तर प्रदेश में आगे बढ़ा रही है।

ब्लॉक स्तर पर होगा क्विज प्रतियोगिता का आयोजन

राज्य परियोजना निदेशक विजय किरण आनंद के द्वारा समस्त जनपदों के बेसिक शिक्षा अधिकारियों को गतिविधियों के संचालन से संबंधित कार्ययोजना और निर्देश जारी किए हैं। इसके अनुसार प्रधानाध्यापक एवं विज्ञान व गणित विषय के शिक्षकों द्वारा परिषदीय उच्च प्राथमिक विद्यालय के बच्चों के लिए विज्ञान विषय से संबंधित क्विज प्रतियोगिता का आयोजन कराया जाएगा। प्रत्येक उच्च प्राथमिक विद्यालयों के उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले कक्षा-6 से 01, कक्षा 7 से 02 एवं कक्षा-8 से 03 बच्चों की ब्लॉक स्तरीय क्विज प्रतियोगिता में प्रतिभागिता सुनिश्चित कराई जाएगी। यदि किसी कक्षा में बच्चों का प्रदर्शन संतोषजनक नहीं है तो ऐसी परिस्थिति में प्रधानाध्यापक द्वारा किन्हीं 02 कक्षाओं से अधिकतम 06 बच्चों का चयन किया जाएगा। विकास खंड स्तर पर खंड शिक्षा अधिकारी के निर्देशन में क्विज प्रतियोगिता का आयोजन संबंधित ब्लॉक के एआरपी, उच्च प्राथमिक एवं कंपोजिट विद्यालय (कक्षा 6 से 8) के प्रधानाध्यापकों के साथ समन्वय स्थापित करते हुए कराया जाएगा। बच्चों की कापी जांचने के लिए आवश्यकतानुसार विज्ञान एवं गणित के शिक्षकों को नियोजित किया जाएगा। ब्लॉक स्तर पर क्विज प्रतियोगिता के लिए स्वीकृत कुल धनराशि में से 10 प्रतिशत की धनराशि उन बच्चों को दी जाएगी, जो जनपद स्तर पर विज्ञान प्रदर्शनी में प्रतिभाग करेंगे।

जनपद स्तर पर लगाई जाएगी विज्ञान प्रदर्शनी

जनपद स्तरीय विज्ञान प्रदर्शनी में कुल 100 बच्चों की प्रतिभागिता सुनिश्चित की जाएगी। विज्ञान पर आधारित समसामयिक विषयों पर मॉडल बनाने के लिए बच्चों को प्रेरित किया जाएगा तथा बच्चों को विज्ञान के शिक्षक, एआरपी द्वारा अपेक्षित सहयोग प्रदान किया जाएगा। जनपद स्तरीय विज्ञान प्रदर्शनी में छात्र-छात्राओं द्वारा प्रदर्शित मॉडल्स में से विशेषज्ञों की निर्णायक समिति द्वारा उत्कृष्टता के आधार पर 10 सर्वश्रेष्ठ मॉडल्स का चयन किया जाएगा तथा उन्हें पुरस्कृत किया जाएगा। इसके लिए जनपद स्तर पर डायट प्राचार्य की अध्यक्षता में समिति का गठन किया जाएगा। जनपद स्तर पर आयोजित की जाने वाली विज्ञान प्रदर्शनी में प्रतिभाग करने वाले सर्वश्रेष्ठ 10 बच्चों को प्रमाण पत्र एवं विज्ञान विषय से संबंधित पुस्तकों का सेट, विज्ञान विषय से संबंधित उपकरण, स्मृति चिन्ह, विज्ञान किट, माइक्रोस्कोप, नगद पुरस्कार प्रदान किया जाएगा। राज्य स्तरीय एक्सपोजर विजिट के लिए प्रथम एवं द्वितीय स्थान प्राप्त करने वाले बच्चों की सूची मुख्य विकास अधिकारी, जिलाधिकारी के अनुमोदन के बाद राज्य परियोजना कार्यालय को प्रेषित की जाएगी।

बच्चों के एक्सपोजर विजिट की भी होगी व्यवस्था

राष्ट्रीय आविष्कार अभियान कार्यक्रम के अंतर्गत खंड शिक्षा अधिकारी के नेतृत्व में प्रति विकास खंड चयनित 100 बच्चों का एक दिवसीय एक्सपोजर विजिट कराया जाएगा। बच्चों को चिन्हित करने में यह ध्यान रखा जाएगा कि बालक-बालिका एवं विभिन्न वर्ग के बच्चों को समान अवसर प्राप्त हो सके। जनपद स्तर पर आयोजित विज्ञान प्रदर्शनी में प्रतिनिधित्व करने वाले बच्चों को एक्सपोजर विजिट में अवश्य सम्मिलित किया जाएगा। एक्सपोजर विजिट में बच्चों के साथ विज्ञान एवं गणित के 02 शिक्षक या प्रधानाध्यापक, संबंधित विकास खंड के विज्ञान एवं गणित के एआरपी तथा संबंधित विकास खंड के खंड शिक्षा अधिकारी द्वारा भ्रमण में प्रतिभागिता सुनिश्चित की जाएगी। एक्सपोजर विजिट में कम से कम दो महिला शिक्षिका अथवा एआरपी को अवश्य सम्मिलित किया जाएगा, ताकि छात्राओं को कोई असुविधा न हो। एक्सपोजर विजिट के लिए जनपद के अंदर अथवा निकट के जनपद, मण्डल में अवस्थित प्रतिष्ठान जैसे चीनी मिल, तारामंडल, न्यूज पेपर प्रिन्टिंग प्रेस, रीजनल सांइस सिटी म्यूजियम, नेशनल बॉटनिकल रिसर्च इंस्टीट्यूट, इंस्टीट्यूट आफ हार्टीकल्चर टेक्नोलॉजी, औद्योगिक इकाई, प्रयोगशाला,वैज्ञानिक अनुसंधान इत्यादि का चिन्हांकन किया जाएगा।

Read more….जनता दर्शन में सीएम योगी ने सुनीं 100 से अधिक लोगों की समस्याएं

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button